Wed. Jul 15th, 2020

सुहागनगरी के खुले धार्मिक स्थल, मंदिर के बाहर तैनात रही पुलिस

फोटो- कैला देवी मंदिर में दर्शन करते भक्तगण
फोटो- मंदिर में विराजमान मां कैला देवी
कैला देवी मंदिर एवं बैष्णो देवी धाम पर थर्मस स्क्रीनिंग के बाद ही दिया भक्तों को प्रवेश
फिरोजाबाद। सरकार के आदेश के बाद सोमवार को सुहागनगरी में धार्मिक स्थलों को खोला गया। कोरोना वायरस के चलते कुछ ही मंदिरों को सुरक्षा के साथ खोला गया है। वहीं मंदिर के बाहर पुलिस कर्मियों को भी तैनात किया गया। जिससे किसी प्रकार का व्यवधान पैदा न हो सके। होटल व रेस्टोरेंट को भी खोला गया है।
कोरोना वायरस के बीच किए गए लाॅकडाउन से पहले ही धार्मिक स्थलों को बंद कर दिय गया था। करीब 75 दिन बाद धार्मिक स्थलों को सोमवार को खोलने की अनुमति दी गई। सुहागनगरी में कैला देवी मंदिर, उसायनी स्थित मां वैष्णों देवी एवं साई मंदिर मंदिर खोले गए। यहां आने वाले श्रद्वालुओं की सबसे पहले गेट पर थर्मस स्क्रीनिंग और हाथों को सैनीटाइज कराया गया। उसके बाद ही मंदिर के अंदर प्रवेश दिया जा रहा है। वहीं मंदिर परिसर को भी पूरी तरह सैनीटाइज करने व साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया गया। मंदिर की रेलिंग और घंटो को बंद रखा गया है। जिससे अनावश्यक ही कोई उन्हें हाथ न लगाए। श्रद्वालुओं के गोले बनाए गए है। बड़े हनुमान मंदिर, गंज मौहल्ला स्थित सिद्वेश्वरनाथ महादेव मंदिर, गल्ला मंडी स्थित रामेश्वरनाथ महादेव मंदिर एवं एमजीरोड स्थित छोटे हनुमान मंदिर में भक्तगण बाहर से ही दर्शन कर रहे है। अभी इन मंदिरो को भक्तों के लिए नहीं खोला गया है। इनके अलावा होटल व रेस्टोरेंट भी खुल गए है। लाॅकडाउन के बाद पहली आर मंदिरों में दर्शन कर श्रद्वाजुओं को खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मंदिरों में सोशल डिस्टेसिंग का विशेष ध्यान रखा गया था। सुभाष तिराहा स्थित जैन तीर्थ स्थल छदामी लाल जैन मंदिर सुबह नौ बजे तक ही खोला गया। सुरक्षा के बीच मस्जिद भी खोली गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *